Pradosh Vrat 2022 Worried about job or business pradosh vrat karne se door hogi naukri paise ki samasya नौकरी या बिजनेस को लेकर हैं परेशान, प्रदोष व्रत करने से दूर होगी समस्याएं

Pradosh Vrat 2022- India TV Hindi
Image Source : PIXABAY
Pradosh Vrat 2022

Highlights

  • प्रदोष व्रत के दिन ब्रह्ममुहूर्त में उठकर सभी कामों से निवृत्त होकर भगवान शिव का स्मरण करें।
  • भगवान शिव जी कृपा से रोग और दोष दूर होते हैं।
  • मंगल अगर निगेटिव हो तो मनुष्य की ऊर्जा स्वार्थ की पूर्ति के लिये खर्च होती है।

आज चैत्र कृष्ण पक्ष की उदया तिथि द्वादशी और मंगलवार का दिन है । द्वादशी तिथि आज दोपहर 2 बजकर 38 मिनट तक रहेगी । उसके बाद त्रयोदशी तिथि लग जाएगी । आज प्रदोष व्रत किया जायेगा । प्रदोष व्रत की पूजा त्रयोदशी तिथि के प्रदोष काल यानि संध्या के समय में किया जाता है और त्रयोदशी तिथि में प्रदोष काल आज ही पड़ रहा है । लिहाजा आज ही प्रदोष व्रत किया जायेगा । प्रदोष का दिन भगवान शंकर से संबंध रखता है। भविष्य पुराण में बताया गया है कि त्रयोदशी की रात के पहले प्रहर में जो व्यक्ति किसी भेंट के साथ शिव प्रतिमा के दर्शन करता है- उसके समस्त समस्यायें स्वतः ही समाप्त हो जाती हैं। 

भौम प्रदोष व्रत करने की विधि

प्रदोष व्रत के दिन ब्रह्ममुहूर्त में उठकर सभी कामों से निवृत्त होकर भगवान शिव का स्मरण करें। इसके साथ ही इस व्रत का संकल्प करें और दिनभर बिना अन्न ग्रहण किए व्रत रखें। इसके साथ ही भगवान शिव की विधि-विधान से पूजा करके दिनभर शिव मंत्र का जाप करते रहें। शाम को सूर्यास्त होने के एक घंटें पहले स्नान करके सफेद कपड़े पहनें। इसके बाद ईशान कोण में किसी एकांत जगह पूजा करने की जगह बनाएं। इसके लिए सबसे पहले गंगाजल से उस जगह को शुद्ध करें फिर इसे गाय के गोबर से लिप लें। इसके बाद पद्म पुष्प की आकृति को पांच रंगों से मिलाकर चौक को तैयार करें। इसके बाद आप कुश के आसन में उत्तर-पूर्व की दिशा में बैठकर भगवान शिव की पूजा करें। भगवान शिव का जलाभिषेक करें, साथ ही ‘ऊं नम: शिवाय:’ का जाप भी करते रहें। इसके बाद भगवान शिव की बेल पत्र, गंगाजल, अक्षत और धूप-दीप आदि से पूजा कर लें और फिर इस कथा को सुन कर आरती करें और प्रसाद सभी को बांट दें।

भौम प्रदोष व्रत का महत्व

भौम प्रदोष व्रत करने से व्यक्ति के जीवन में सुख, समृद्धि, धन, धान्य, संतान आदि  की प्राप्ति होती है। साथ ही भगवान शिव जी कृपा से रोग और दोष दूर होते हैं। अगर आपको कोई रोग है तो इससे छुटकारा पाने के लिए आप प्रदोष व्रत कर सकते हैं। इससे आपको लाभ मिल सकता है। शिवजी की पूजा के बाद हनुमान जी की पूजा भी करनी चाहिए और उन्हें सिन्दूर चढ़ाना चाहिए । क्योंकि यह भौम प्रदोष व्रत है और भौम प्रदोष में हनुमान जी की पूजा की जाती है । शास्त्रों में मंगलवार और शनिवार के दिन पड़ने वाले प्रदोष का अत्यधिक महत्व होता है और आपको बता दूं कि आज त्रयोदशी तिथि के साथ मंगलवार का दिन भी है और मंगल का एक नाम भौम है । मंगल को देवताओं का सेनापति कहा जाता है। 

मंगल एक तेज ग्रह है और मंगल का संबंध ताकत से है । मंगल, मनुष्य की धमनियों में दौड़ते हुये खून से सम्बन्ध रखता है । मंगल पॉजिटिव हो, तो ये खून दूसरों की रक्षा के लिये उबलता है- मनुष्य सेना में जाता है। मंगल अगर निगेटिव हो तो मनुष्य की ऊर्जा स्वार्थ की पूर्ति के लिये खर्च होती है। लिहाजा आज भौम प्रदोष के दिन कमजोर मंगल को ताकतवर बनाने के लिए क्या उपाय करना चाहिए, आइए इसकी जानकारी आपको देते हैं-

आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए कर्ज मुक्ति के उपाय

  1. अगर आपने किसी से कर्जा ले रखा है और देनदारों ने अपना पैसा वापस पाने के लिये आपको परेशान कर रखा है, लेकिन आप अभी कर्जा उतारने में समर्थ नहीं है और कुछ दिनों के लिये देनदारों से मिल रही परेशानी से राहत चाहते हैं, तो आज शाम के समय हनुमान मन्दिर में जाकर या घर पर ही हनुमान जी की मूर्ति के आगे घी का दीपक जलाकर उन्हें बूंदी का प्रसाद अर्पित करें। उसके बाद हनुमान चालीसा का पाठ करें । आज ऐसा करने से जल्द ही कर्ज से भी छुटकारा मिलेगा।
  2.  अगर आपको लगातार व्यापार में नुकसान का सामना करना पड़ रहा है, जिसके चलते कर्ज लेने तक की नौबत आ गई है, तो आज शिव मन्दिर में जाकर शिवलिंग पर हरे मोटे मूंग चढ़ाएं और भगवान शिव के इस मन्त्र का 11 बार जप करे । मन्त्र है- ‘ऊँ ऋण मुक्तेश्वर महादेवाय नमः’।  आज ऐसा करने से व्यापार में हो रहे नुकसान से आपको राहत मिलेगी ।
  3. अगर आपके बिजनेस में कुछ समस्याएं चल रही हैं, जिसका असर आपके दाम्पत्य जीवन और आपके परिवार पर भी पड़ रहा है तो आज पीपल के वृक्ष की जड़ में जल चढ़ाएं और शाम के समय उसी पीपल के पेड़ के पास तेल का दीपक जलाएं। साथ ही भगवान से अपने बिजनेस में चल रही समस्याओं के लिये प्रार्थना करें। आज ऐसा करने से आपकी समस्या का हल जल्द ही निकलेगा।
  4. अगर आपके दाम्पत्य संबंधों की ऊष्मा कहीं गायब हो गई है, तो उस ऊष्मा को फिर से क्रिएट करने के लिये आज सुबह स्नान आदि से निवृत्त होकर शिव मन्दिर में जाकर या घर पर ही शिवजी की पूरे विधि-विधान से पूजा करें और 21 बार ‘ऊँ नमः शिवाय’ मंत्र का जाप करें। आज ऐसा करने से आपके दाम्पत्य संबंधों में फिर से नई ऊर्जा का संचार होगा।
  5. अगर आपका पैसा कहीं फंस गया है और वह व्यक्ति आपको पैसा वापिस देने का नाम नहीं ले रहा है, तो इसके लिये आप एक गोमती चक्र लें और उस पर मंगल के मंत्र का 5 बार जाप करें । मंत्र है-  ‘ऊँ क्रां क्रीं क्रौं सः भौमाय नमः’। इस मंत्र का जाप करने के बाद शाम के समय अंधेरा होने पर किसी विरानी जगह पर गड्ढा खोदकर जिससे पैसा वापिस लेना है, उस व्यक्ति का नाम लेते हुए गोमती चक्र को गड्ढे में दबा दें। आज ऐसा करने से आपका पैसा जल्द ही आपके पास वापस आ जायेगा    
  6. अगर आप अपने बड़े भाई के साथ रिश्ते में प्यार बरकरार रखना चाहते हैं, तो आज आपको दो पत्थर के टुकड़े लेकर उन्हें लाल रंग से रंगना चाहिए और अपने भाई के हाथ से छुआना चाहिए । अब उनमें से एक पत्थर को बहते जल में प्रवाहित कर दें और दूसरे पत्थर को संभालकर हमेशा अपने पास रखें। आज ऐसा करने से बड़े भाई के साथ आपके रिश्ते में प्यार बरकरार रहेगा    
  7. अगर आप कर्ज के बोझ तले फंसे हैं और उससे जल्द से जल्द बाहर निकलना चाहते हैं, तो आज भौम प्रदोष व्रत के दिन आपको लेनदार को ज्यादा ना सही, लेकिन कुछ राशि, चाहें तो एक रुपया ही जरूर लौटाना चाहिए और अगली किश्त भी जब तैयार हो, तो मंगलवार के दिन ही चुकाएं । आज ऐसा करने से आपका कर्ज बहुत जल्दी ही उतर जायेगा।
  8. शरीर में नाभि के आसपास का क्षेत्र मंगल का होता है । अतः अगर आपकी नाभि के आस-पास किसी प्रकार की परेशानी बनी रहती है, तो आज आपको 900 ग्राम मसूर की दाल लेकर अपनी नाभि से छुआकर दान करनी चाहिए। आज ऐसा करने से आपकी परेशानी जल्द ही दूर होगी।
  9. अगर आपकी संतान के जीवन में किसी प्रकार की परेशानी चल रही है, तो आज आपको इस मंत्र का 108 बार जप करना चाहिए । मंत्र है-‘ॐ भूमि पुत्राय नमः।‘ आज ऐसा करने से आपकी संतान के जीवन में चल रही परेशानी जल्द ही दूर होगी।
  10. अगर आप अपनी ताकत का लोहा मनवाना चाहते हैं, तो आज आपको हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए । साथ ही हनुमान जी के मन्दिर में चमेली के तेल का दीपक जलाना चाहिए। आज ऐसा करने से सब लोग आपकी ताकत का लोहा मानेंगे।
  11. अगर आप अपने अन्दर पॉजिटिव ऊर्जा को बढ़ाना चाहते हैं, तो आज आपको स्नान आदि के बाद साफ कपड़े पहनकर सबसे पहले हनुमान जी के आगे सिर झुकाकर प्रणाम करना चाहिए । फिर कम से कम सात बार हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए । आज ऐसा करने से आपके अन्दर पॉजिटिव ऊर्जा बढ़ेगी।
  12. अगर आप अपनी नौकरी को लेकर परेशान हैं, आपको कोई अच्छी नौकरी नहीं मिल पा रही है, तो आज आपको हनुमान मंदिर जाकर शहद की शीशी भेंट करनी चाहिए । साथ ही भगवान के आगे हाथ जोड़कर नौकरी में आ रही परेशानी से छुटकारा पाने के लिए विनती करनी चाहिए । आज ऐसा करने से आपको जल्द ही कोई अच्छी-सी जॉब मिल जायेगी।

 

Source link

Leave a Comment