shaniwar ke din ye na khareeden do not buy these things on saturday ।शनिवार के दिन इन चीजों का घर में प्रवेश करें वर्जित और फिर देखें चमत्कार

शनिदेव- India TV Hindi
Image Source : TWITTER
शनिदेव

खरीददारी करना सभी को पसंद होता है। जब भी आपको वक्त मिलता है तो आपके शापिंग के लिए निकल जाते है। हमें ज्यादातर समय शनिवार या रविवार को मिलता है, लेकिन शनिवार को शापिंग करते वक्त सावधानियां बरतनी चाहिए, क्योंकि इस दिन कुछ चीजें खरीदने से घर में कलह, दुख, लड़ाई जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती हैं। इस बारें में ज्योतिष शास्त्र में भी इसके कुछ नियम बताए गए हैं। जानिए ऐसी कौनसी वस्तुएं हैं जो शनिवार को घर नहीं लानी चाहिए या इस दिन इन्हें नहीं खरीदना चाहिए-

काले तिल बनते हैं बाधा-

सर्दियों में काले तिल शरीर को पुष्ट करते हैं। ये शीत से मुकाबला करने के लिए शरीर की गर्मी को बरकरार रखते हैं। पूजन में भी इनका उपयोग किया जाता है। शनि देव की दशा टालने के लिए काले तिल का दान और पीपल के वृक्ष पर भी काले तिल चढ़ाने का नियम है, लेकिन शनिवार को काले तिल कभी न खरीदें। कहा जाता है कि इस दिन काले तिल खरीदने से कार्यों में बाधा आती है।

अनाज पीसने की चक्की-


शनिवार के दिन अनाज पीसने के लिए चक्की भी नहीं खरीदनी चाहिए। माना जाता है कि यह परिवार में तनाव लाती है और इसके आटे से बना भोजन रोगकारी होता है।

लोहे का सामान-

समाज में यह परंपरा लंबे समय से चली आ रही है कि शनिवार को लोहे का बना सामान नहीं खरीदना चाहिए। मान्यता है कि शनिवार को लोहे का सामान क्रय करने से शनि देव कुपित होते हैं और शनि दोष भी लग सकता है, लेकिन इस दिन लोहे से बनी चीजों के दान का विशेष महत्व है। लोहे का सामान दान करने से शनि देव की कोप दृष्टि निर्मल होती है और घाटे में चल रहा व्यापार मुनाफा देने लगता है। इसके अतिरिक्त शनि देव यंत्रों से होने वाली दुर्घटना से भी बचाते हैं।

नमक खरीदने से हो सकता है कर्ज-

नमक हमारे भोजन का सबसे अहम हिस्सा है। अगर नमक खरीदना है तो बेहतर होगा शनिवार के बजाय किसी और दिन ही खरीदें। शनिवार को नमक खरीदने से यह उस घर पर कर्ज लाता है। साथ ही रोगकारी भी होता है।

तेल न खरीदें-

शनिवार के दिन तेल खरीदने से भी बचना चाहिए। हलांकि तेल का दान किया जा सकता है। काले श्वान को सरसों के तेल से बना हलुआ खिलाने से शनि की दशा टलती है। ज्योतिष के अनुसार, शनिवार को सरसों या किसी भी पदार्थ का तेल खरीदने से वह रोगकारी होता है।

ईंधन खरीदना परिवार के लिए कष्टकारक-

भारतीय संस्कृति में अग्नि को देवता माना गया है और ईंधन की पवित्रता पर विशेष जोर दिया गया है लेकिन शनिवार को ईंधन खरीदना वर्जित है। माना जाता है कि शनिवार को घर लाया गया ईंधन परिवार को कष्ट पहुंचाता है।

कैंची लाती है रिश्तों में तनाव-

कैंची ऐसी चीज है जो कपड़े, कागज आदि काटने में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाती है। पुराने समय से ही कपड़े के कारोबारी, टेलर आदि शनिवार को नई कैंची नहीं खरीदते। यह मान्यता है कि इस दिन खरीदी गई कैंची रिश्तों में तनाव लाती है।

स्याही दिलाती है अपयश-

विद्या मनुष्य को यश और प्रसिद्धि दिलाती है और उसे अभिव्यक्त करने का सबसे बड़ा माध्यम है कलम। कागज, कलम आदि खरीदने के लिए सबसे श्रेष्ठ दिन गुरुवार है। शनिवार को स्याही न खरीदें। यह मनुष्य को अपयश का भागी बनाती है।

काले जूते लाते हैं असफलता-

शरीर के लिए जितने जरूरी वस्त्र हैं, उतने ही जूते भी। खासतौर से काले रंग के जूते पसंद करने वालों की तादाद आज भी काफी है। अगर आपको काले रंग के जूते खरीदने हैं तो शनिवार को न खरीदें। माना जाता है कि शनिवार को काले जूते खरीद कर  पहनने से काम में असफलता प्राप्त होती है।

झाडू न खरीदें

झाडू घर के विकारों को बुहार कर उसे निर्मल बनाती है। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का आगमन होता है। झाडू खरीदने के लिए शनिवार को उपयुक्त नहीं माना जाता। शनिवार को झाडू घर लाने से दरिद्रता का आगमन होता है।

Disclaimer: इस लेख में दी गई सूचनाएं सामान्य जानकारी और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं। इंडिया टीवी इनकी पुष्टि नहीं करता है।

Source link

Leave a Comment