vastu tips mayurshikha plant is very auspicious for money and positivity at home।वाकई चमत्कारी है ये पौधा, घर में लगाकर देखें जमकर बरसेगा पैसा

mayurshikha- India TV Hindi
Image Source : TWITTER
mayurshikha

Highlights

  • यह पौधा आसानी से प्राप्त किया जा सकता है
  • यह मोर की शिखा जैसा दिखाई देता है

वास्तु और ज्योतिष में कुछ चीजों को बेहद चमत्कारी और पवित्र बताया गया है जिनके प्रभाव से बिगड़े काम बन जाते हैं और परेशानियां मिट जाती है। कुछ पेड़ धार्मिक नजरिए से भी बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। इनमें से कुछ पौधे घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर करते हैं तो कुछ ऐसे पौधे होते हैं जिन्हें लगाने से घर में धन की कभी कमी नहीं होती है। ऐसा ही एक पौधा है मयूर शिखा का पौधा। 

यह पौधा आसानी से प्राप्त किया जा सकता है। यह मोर की शिखा जैसा दिखाई देता है, इसलिए इसे मयूर शिखा कहा जाता है। इस पौधे को बंगाली में लाल मोरग या मोरगफूल कहते हैं, तो वहीं तेलगु में माइरक्षिपा और ओड़िया में मयूर चूड़िआ कहा जाता है।

वहीं अंग्रेजी में इसे पीकॉक्‍स टेल प्‍लांट कहते हैं। यह पौधा मुर्गे की कलगी की तरह भी दिखाई देता है। वास्तुशास्त्र के अनुसार इस पौधे को घर में लगाने से धन बढ़ता है और वास्तुदोष समाप्त होता है। 

मयूर शिखा के फायदे-

नाकारात्मक खत्म होती है-

वास्तु दोष निवारण में यह पौधा लाभदायक माना जाता है। मयूरशिखा पौधा कई तरह के वास्‍तु दोष खत्‍म करता है। यह घर की नकारात्‍मकता को खत्‍म करके घर में सुख-समृद्धि बढ़ाता है। 

पितृदोष होता है खत्म-
इस पौधे को सही दिशा में लगाने से पितृदोष खत्‍म होता है, जिस घर में पितृदोष हों उन्हें इस पेड़ को लगाना चाहिए।

दुष्टात्मा नाशक पेड़-
इसका एक नाम दुष्टात्मा नाशक भी है अर्थात यह घर में बुरी आत्माओं के प्रवेश रोकता है।

औषधीय रूप में किया जाता है प्रयोग-
आयुर्वेद में इसका उपयोग औषधि के रूप में किया जाता है। कषाय, शीत, अम्ल, लघु, कफ- पीतशामक तथा पक्वातिसर शामक, मधुमेहनाशक आदि का कार्य होता है।

 मानसिक तनाव करता है दूर-
जिस घर में लोगों को कोई बीमारी नहीं पकड़ रखा हो या कोई सदस्य मानसिक तनाव से ग्रसित हो. उन्हें अपने जीवन की इस नकारात्मकता को दूर करने के लिए इस पौधे को घर में रखना चाहिए।

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं। इंडिया टीवी इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है। इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है।)

Source link

Leave a Comment